Motapa kam karne ke upay

मोटापा कम करने के उपाय तरीके(Motapa kam karne ke upay)

मोटापा (obesity) एक ऐसी समस्या है जो शारीरिक स्वास्थ्य पर तो बुरा प्रभाव डालता ही है साथ ही साथ आपके पर्सनालिटी पर भी असर डालता है।

यदि आप भी मोटापा से परेशान हैं तो अपना आइए इन 10 मोटापा कम करने के उपाय (Motapa kam karne ke upay) या तरीके में से किसी एक या दो को और जल्दी से हो जाए फिट।

इस लेख में मोटापा से जुड़ी हर टॉपिक को कवर करने की कोशिश की गई है जो किसी भी व्यक्ति को मोटापा, वजन या चर्बी कम करने में सहायक (मददगार) होगा। इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें।

मोटापा क्या है? What is obesity in hindi –

मोटापा व शारीरिक स्थिति है जिसमें वसा की मात्रा शरीर में इतना अधिक एकत्रित हो जाता है जिसके कारण शारीरिक गतिविधियां और स्वास्थ्य में बाधा उत्पन्न होने लगता है।
मोटापा के कारण कई बीमारियां जैसे – उच्च रक्तचाप, मधुमेह, अर्थराइटिस, हृदय रोग आदि का होना लाज़मी हो जाता है।

Motapa kam karne ke upay Weight loss

आज तक ने एक आर्टिकल में लिखा है, एक शोध के अनुसार पता चला है कि अगले 25 साल में दुनियाभर के एक चौथाई लोग मोटापा से ग्रसित हो जाएंगे।

मोटापा होने के कारण – Region of obesity in hindi –

  • अत्यधिक वसा युक्त आहार (भोजन) का सेवन करना।
  • संतुलित एवं पौष्टिक आहार का सेवन ना करना।
  • शारीरिक गतिविधियां, व्यायाम, योगा आदि को न करना।
  • शारीरिक क्रियाओं का समुचित ढंग से क्रियान्वित ना होना।
  • ज्यादा मानसिक तनाव में रहना।
  • कम सोना या देर रात तक जागना।
  • दिन में खाना खाने के तुरंत बाद सोने की आदत।
  • थायराइड होने के कारण भी मोटापा होता है।
  • अनुवांशिक कारण से भी मोटापा होता है।
  • पैक्ड फूड या जंक फूड का अत्यधिक सेवन करना।

मोटापा कम करने के उपाय – Motapa kam karne ke upay –

मोटापा कम करने के उपाय तो बहुत सारे बताए जाते हैं लेकिन यहां पर 10 मुख्य उपायों को बताया जा रहा है जिसे नीचे के लेख में आप विस्तार से जान पाएंगे।

  1. घरेलू नुस्खे (उपाय)
  2. संतुलित एवं पौष्टिक आहार
  3. शारीरिक गतिविधियां
  4. व्यायाम
  5. योग
  6. आयुर्वेदिक दवा
  7. अंग्रेजी दवा
  8. होम्योपैथिक दवा
  9. सर्जरी
  10. डाइटिंग

मोटापा कम करने के घरेलू उपाय (नुस्खे) – (Motapa kam karne ke gharelu upay)

मोटापा या वजन कम करने के लिए सबसे आसान और सरल तरीका है घरेलू उपाय (नुस्खे)। जिसे अपनाकर आसानी से वजन कम किया जा सकता है।
इसकी खास बात यह है कि यह सस्ती होती है और इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है।

नीचे 10 ऐसे घरेलू नुस्खे (10 Home remedies for weight loss in hindi) को बताया गया है जिसे किसी एक नुस्खे को अपनाकर आप आसानी से वजन कम कर सकते हैं।

सौंफ, धनिया और जीरा –

सौंफ, धनिया और जीरा को मिलाकर नियमित सेवन करें। यह सबसे अच्छा मोटापा कम करने के घरेलू उपाय हैं। इन तीनों को रात में अलग-अलग भिगोए। एक कप पानी में एक छोटी चम्मच सौंफ, धनिया और जीरा को अलग-अलग डालें। सुबह तीनों को एक साथ मिलाकर उबालें। जब पानी आधा बच जाए तो इसे छानकर खाली पेट में पिए। इसके सेवन से 20 से 25 दिन में फर्क नजर आने लगेगा लेकिन इसे 3 से 4 महीने तक लगातार आजमाएं।

शहद, नींबू गर्म पानी –

यह भी सबसे अच्छा और सरल पेट कम करने का घरेलू उपाय हैं। एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच नींबू का रस एक चम्मच शहद को अच्छी तरह से गोली ले। सुबह खाली पेट रोजाना इसका सेवन करें। 2 से 3 महीने लगातार इसके सेवन से इसके परिणाम हर किसी को चौंका देगा । यह बहुत सरल मोटापा कम करने के उपाय हैं इसे जरूर आजमाएं।

करेला और नींबू –

सुबह खाली पेट में एक गिलास करेला के जूस में एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर पिए। इसके नियमित सेवन से पेट की चर्बी कम होती है जिससे आपके मोटापा और वजन में बहुत फर्क नजर आने लगेगा।

दालचीनी और शहद –

दालचीनी का सेवन भी सबसे अच्छा मोटापा कम करने का उपाय माना जाता है। एक गिलास पानी में एक छोटी चम्मच दालचीनी पाउडर को डालकर उबालें। फिर इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह नाश्ते से आधा घंटा पहले चाय की तरह पिए। बहुत जल्द लाभ दिखेगा। इसे रात को सोने से पहले भी सेवन करें ज्यादा जल्द असर दिखाई देगा।

ग्रीन टी –

यदि आप चाय का ज्यादा शौकीन है तो यह भी सबसे अच्छा मोटापा कम करने के उपाय हैं। बस आपको अपने घरेलू चाय की जगह ग्रीन चाय का उपयोग करना है। ग्रीन टी में क्रोमियम, जिंक, सेलेनियम, विटामिन सी जैसी कई खनिज पदार्थ पाए जाते हैं जो आपके कोलस्ट्रोल को नियंत्रित करने एवं मोटापा कम करने में सहायक माना जाता है। एक कप पानी में एक चम्मच ग्रीन टी डालकर उबालें। फिर इसे छानकर पिएं। रोजाना इसे दो से तीन बार सेवन करें।

एलोवेरा –

एलोवेरा एक ऐसी पौधा है जिसमें कई गुण पाए जाते हैं इसके सेवन से पेट संबंधित कई बीमारियों को दूर आसानी से किया जाता है।

एलोवेरा कब्ज के के बीमारी को दूर करने में बहुत लाभदायक है। इसके नियमित सेवन से मेटाबोलिज में सुधार होता है एवं शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकलता है।

मोटापा कम करने में एलोवेरा बहुत ही सहायक है। इसके जूस बाजार में आसानी से उपलब्ध है जिसे रोजाना खाली पेट सेवन करें।

इसे आप पतंजलि स्टोर या आयुर्वेदिक स्टोर से खरीद सकते हैं। आप चाहे तो इसे घर पर भी आसानी से उगाकर तैयार कर सकते हैं।

काली मिर्च –

एक गिलास गर्म पानी में काली मिर्च का पाउडर एक चम्मच नींबू एक चम्मच शहद मिलाकर पीएं। इसे रोजाना सुबह खाली पेट दो से तीन महीने तक सेवन करें। मोटापा एवं वजन कम करने में बहुत ही लाभदायक माना जाता है।

अदरक –

अदरक का नियमित सेवन सबसे अच्छा वजन या मोटापा कम करने के घरेलू उपाय माना जाता है। अदरक में फेनोलिक योगिक पाया जाता है जिससे जिंजरोल कहते हैं।

एक अध्ययन के अनुसार यह पाया गया है कि जिंजरोल वजन कम करने में बहुत ही सहायक होता है। एक छोटा अदरक के टुकड़ा ले और उसे चूर कर एक गिलास पानी में डाल दें फिर इसको उबालें। 5 मिनट उबालने के बाद इसे छानकर पीए।

लाल मिर्च –

लाल मिर्ची भी मोटापा कम करने में सहायक है। लेकिन इसका सेवन शुरुआती में कम मात्रा में करें फिर आपके शरीर अनुकूल होता जाए तो इसे बढ़ाकर एक चम्मच तक ले जाएं। इसे एक ग्लास पानी में लाल मिर्च और नींबू मिलाकर चाय बना ले पूर्णविराम फिर चाय को पिए। इसे 1 से 2 माह तक करें फर्क नजर आने लगेगा।

नारियल तेल और कपूर –

नहाने से आधा घंटा पहले नारियल तेल और कपूर से पूरे शरीर को मालिश करें। नारियल तेल और कपूर त्वचा के लिए बहुत ही लाभदायक है इसके उपयोग से दाग धब्बे झुर्रियां खुजली फुंसी आदि ठीक हो जाते हैं। पेट की मसाज करने से चर्बी कम होता है।

इसे तैयार करने के लिए सौ ग्राम नारियल तेल में कपूर के दो तीन बड़ी टुकड़े को बारीक पीसकर मिला लें। फिर से धूप में 4 से 5 घंटे तक गर्म कर लें। स्टेल्को रोजाना मसाज के लिए उपयोग करें।

Motapa kam karne ke upay

संतुलित एवं पौष्टिक आहार – (Motapa kam karne ke upay)

मोटापा कम करने में संतुलित एवं पौष्टिक आहार का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है। पौष्टिक आहार से शरीर को फाइबर, प्रोटीन आदि की समुचित मात्रा में प्राप्त होता है जो मोटापा कम करने में बहुत जरूरी है।
नीचे कुछ हरी सब्जियां को बताया जा रहा है जिसे आप अपने भोजन में नियमित शामिल कर मोटापा या वजन कम कर सकते हैं।

पता गोभी –

पता गोभी में फाइबर की समृद्धि होती है जिसे मोटापा कम करने में बहुत ही सहायक माना जाता है । इसे भोजन में उपयोग करें ।
इसके ज्यादा लाभ लेने के लिए इसके सुप का सेवन करें। सुप बनाने के लिए इसे बारीक काट ले। पानी को गर्म करें । पानी में उबाल आने पर कटे हुए गोभी को डाल दें। आप चाहे तो इसमें स्वादानुसार धनिया पत्ती, लहसुन की काली, अदरक, कालीमिर्च, काला नमक मिला सकते हैं।अच्छे से उबल जाने पर इसे छान लें और गरमा-गरम सुप पियें।

टमाटर –

टमाटर का सेवन करें मोटापा कम करने में बहुत अधिक मदद मिलेगा। इसका सेवन आप रोज सुबह नाश्ते में करें। ऑफिसर खाने के समय सलाद के रूप में भी ले सकते हैं।

हालांकि ज्यादा टमाटर का सेवन करना उचित नहीं माना जाता है इसलिए इसे रोजाना दो से तीन टमाटर का ही उपयोग करें।

खीरा –


यह एक ऐसा फल है जिसमें लगभग 80 से 90 % तक पानी होता है। तथा इसमें फाइबर की समृद्धि होती है जो मोटापा या चर्बी कम करने में सहायक होता है। इसमें उपलब्ध अधिक पानी और फाइबर की मात्रा के कारण भूख ज्यादा देर से लगता है। जिसके कारण भोजन ज्यादा करने की जरूरत नहीं पड़ती। और मोटापा को नियंत्रित करने में सहायक होता है।

लौकी –

लौकी के सेवन से कई बीमारियों का रोका जा सकता है। इसमें अधिक मात्रा में फाइबर उपलब्ध होता है तथा लगभग 0% वसा (फैट) उपलब्ध होने के कारण मोटापा कम करने में अचूक उपाय माना जाता है। इसे भोजन में सब्जी के रूप में ले सकते हैं।

इसके ज्यादा लाभ लेने के लिए इसके एक गिलास जूस रोजाना सुबह खाली पेट सेवन करें। मोटापा के साथ-साथ कई बीमारियों को दूर कर देगा।

गाजर –

गाजर में कई प्रकार के विटामिंस मिनरल्स एवं फाइबर पाए जाते हैं जिसके कारण इसे भी मोटापा कम करने के लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है। इसे नाश्ते तथा खाने में सलाद के रूप में प्रयोग कर सकते हैं। इसके ज्यादा लाभ लेने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट एक गिलास गाजर का जूस पिए।

दही या छाछ –

मोटापा कम करने के लिए दही भी एक अच्छा स्रोत है। आप चाहे तो इसे दिन में दो से तीन बार खाना एवं नाश्ते के साथ उपयोग कर सकते हैं।

ध्यान रहे दही या छाछ में मक्खन की मात्रा ना के बराबर हो। बिना मक्खन (वसा) वाला दही को योगर्ड के नाम से जाना जाता है आप चाहे तो इसे भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

शारिरिक गतिविधियां – (Motapa kam karne ke upay)

शरीर को फिट रखने के लिए शारीरिक गतिविधियां बहुत जरूरी है। यहां तक की इसके आदत में लाने से मोटापा को कम किया जा सकता है। नीचे शरीरिक गतिविधियों से जुड़ी कुछ टॉपिक बताएं है जिसे आप अपना सकते हैं।

पैदल चलना – यदि आप अपने आदत में पैदल चलना शामिल करते हैं तो यह आपके सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है। यदि आपका ऑफिस या कार्यस्थल नजदीक है तो वाहन के वजाय पैदल जाएं।

सीढ़ी का प्रयोग – यदि आप अपने ऑफिस में लिफ्ट का प्रयोग कर रहे हैं तो यह आपकी सेहत के लिए खतरा है। इसके बजाय आप सीढ़ीयों का प्रयोग करें। मोटापा पर कंट्रोल करने में बहुत लाभदायक होगा।

खेल – किसी भी व्यक्ति को 1 दिन में कम से कम एक घंटा जरूर आउटडोर गेम खेलना चाहिए। जिसने थोड़ी ऊर्जा का खपत हो और पसीना निकले। यह उपाय आपको हमेशा सेहतमंद रखेगा और तनावमुक्त भी।

घर का काम – यदि आप ज्यादा व्यस्त रहते हैं और अपने घर के काम के लिए कोई नौकर रखे हैं तो इस पर भी आप थोड़ा नियंत्रण करें। जितना हो सके घर के छोटी-छोटी काम स्वयं करें जिससे आपके सेहत में सुधार तो होगा ही साथ ही साथ पैसे की भी बचत होगी।

घूमना – यदि आपको घूमना पसंद हैं तो आप वाहन के बजाय पैदल आसपास घूमें या सुबह-शाम अपनी गलियों, मोहल्ले या पार्क में पैदल घुमा करें। यह छोटी-छोटी आते आपको सेहतमंद रखेंगे।

व्यायाम – (Motapa kam karne ke upay)

यह भी शारिरिक गतिविधियों का एक श्रेणी है। जिसे हर व्यक्ति को करना बहुत जरूरी है। जो व्यक्ति व्यायाम नियमित करता है उससे कई रोग कोसों दूर रहते हैं। मोटापा जैसे बीमारी तो आसपास भी नहीं भटकते हैं।

मोटापा कम करने का यह भी सबसे अच्छा तरीका माना जाता है। आप रोजाना जितना चाहे व्यायाम कर सकते हैं।

नीचे कुछ मोटापा कंट्रोल करने के लिए व्यायाम बताया जा रहे हैं उससे आप चाहे तो कर सकते हैं।

स्प्रिंट – आप दौड़ने के बजाए सौ – सौ मीटर का स्प्रिंट लगाएं इससे ज्यादा ऊर्जा खपत होती है और मोटापा को कम करने में बहुत मदद मिलती है। 1 दिन में सौ – सौ मीटर का 10 से 15 स्प्रिंट (तेज दौड़) लगा सकते हैं। या अपने क्षमता अनुसार स्प्रिंट लगायें।

जंप – कूदना भी मोटापे के लिए बहुत लाभकारी होता है आप चाहे तो लंबी कू,द ऊंची कूद कोई भी कर सकते हैं या दोनों कर सकते हैं इससे भी वजन कम करने में बहुत मदद मिलती है।

योग – (Motapa kam karne ke liye yoga)

कहा जाता है जो करे योग वह रहे सदा निरोग। योग एक ऐसी किरिया है जिसके द्वारा कई बीमारियों को आसानी से दूर किया जा सकता है। ठीक उसी प्रकार यदि आप मोटापा से परेशान हैं तो योग जरूर करें यह आपके लिए एक वरदान सिद्ध होगा। नीचे कुछ योगासनों का नाम बताया जा रहा है जो मोटापा कम करने के लिए बहुत ही उपयोगी है।

सूर्य नमस्कार –

यह एक ऐसा योगासन है जो शरीर के सभी रोगों का नाश करता है तथा शरीर मजबूत बनाता है। सूर्य नमस्कार को मोटापा का दुश्मन कहा जाता है यह मोटापा के लिए रामबाण साबित होगा। इसे आप नियमित रूप से करें। सूर्य नमस्कार कैसे करें एवं इसके सभी फायदे को जानने के लिए यहां दबाएं।

चक्की संचालन क्रिया –

जमीन पर पैर लंबवत (सामने) करके बैठ जाएं। अब दोनों हाथों को मिलाते हुए जिस प्रकार चक्की को पकड़ते हैं उस प्रकार दोनों हाथों को मिलाकर पकड़ ले। आगे झुकते हुए पैरों के अंगुलियों को छूते हुए गोल-गोल हाथों को घुमाएं एवं साथ में शरीर को भी घूम आए। यह मोटापा को कम करने के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है।

सर्वांग पुष्टि –

जमीन पर पर लंबवत सामने करके बैठ जाएं। अब शरीर को कमर के ऊपरी हिस्से को बाए मोड़ते हुए पीछे घूमे और अपने नाक को जमीन से स्पर्श कराने की कोशिश करें।
अब इसी क्रिया को दाहिने तरफ शरीर को मोड़ते हुए पीछे घूमे और नाक को जमीन से स्पर्श कराने की कोशिश करें। इस क्रिया को बार-बार दाएं एवं बाएं दोहराएं। इसे करते समय दोनों हाथों के सहारा ले सकते हैं। यह भी मोटापा के लिए बहुत अच्छा आसन है।

निकले हुए पेट एवं चर्बी को कम करने के लिए इन योगासनों को जरूर करें।

  • भुजंगासन
  • पादहस्तासन
  • उत्तानपादासन
  • धनुरासन
  • जानु शीर्षासन
  • नौकासन
  • बालासन
  • पवनमुक्तासन

ऊपर बताए गए आसनों को कैसे करें जानने के लिए यहां दबाएं।

आयुर्वेदिक दवा ( मोटापा कम करने के 07 आयुर्वेदिक उपाय)

आयुर्वेदिक दवाओं का उपयोग वर्षों से किया जा रहा है। यह बहुत प्राचीन विज्ञान है। जिसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे कोई साइड इफेक्ट नही होता है। आयुर्वेद में लगभग सभी बीमारियों का इलाज संभव है।

इसके इलाज में थोड़ा समय ज्यादा लगता है लेकिन उचित इलाज होता है। मोटापा को भी दूर करने के लिए आयुर्वेद में कई इलाज हैं। जिसे अपनाकर मोटापा को आसानी से दूर किया जा सकता है।

नीचे कुछ आयुर्वेदिक दवाओं के नाम बताए जा रहे हैं जीसे किसी विशेषज्ञ की सलाह लेने के बाद सेवन कर सकते हैं।

दिव्य पेय – यह पतंजलि द्वारा बनाए गए आयुर्वेदिक पेय है। यह ग्रीन टी की तरह काम करता है जिससे मोटापा कम करने में बहुत ही सहायक माना जाता है। दिव्य पेय को दिन में दो से तीन बार चाय की तरह बनाकर पिए। इसे पतंजलि स्टोर या ऑनलाइन स्टोर से खरीदा जा सकता है।

मेदोहर गुग्गुलु – यह बैजनाथ आयुर्वेद के द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक औषधि है। इसके सेवन से मोटापा कम होता है। पाचन क्रिया संबंधित विकार दूर होता है। इसे किसी भी आयुर्वेदिक दुकान से खरीदा जा सकता है।

त्रिफला चूर्ण – यह मोटापा के लिए बहुत ही उपयोगी आयुर्वेदिक चूर्ण माना जाता है। यह किसी भी आयुर्वेदिक दुकान या ऑनलाइन स्टोर पर आसानी से उपलब्ध होता है वहां से आप खरीद सकते हैं।

आप चाहे तो त्रिफला का स्वरस भी उपयोग कर सकते हैं। पतंजलि स्टोर से भी इसे आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

अश्वगंधा – अश्वगंधा के पत्ते को आप सुबह शाम दो-दो पत्ते
चबाकर खाएं। इसे मोटापा कम करने के रामबाण औषधि माना जाता है।

आप चाहे तो इसे बाजार से किसी भी आयुर्वेदिक दुकान से अश्वगंधा चूर्ण या अश्वगंधा बटी खरीद सकते हैं और इसे सुबह शाम पानी के साथ ले सकते हैं। पतंजली के द्वारा भी बनाया गया अश्वगंधा चूर्ण या अश्वगंधा बटी (motapa kam karne ki patanjali medicine) इस्तेमाल कर सकते हैं।

मेदोहर वटी – यह पतंजलि द्वारा बनाए गए आयुर्वेदिक टेबलेट (motapa kam karne ki patanjali medicine) है। जिसे आप रोजाना दो-दो गोली सुबह शाम पानी के साथ ले सकते हैं। यह मोटापा के लिए बहुत ही सफल आयुर्वेदिक दवा है।

दिव्य गोधन अर्क – यह भी पतंजलि द्वारा बनाए गए अर्क (motapa kam karne ki patanjali medicine) है। इसका निर्माण गो मूत्र से होता है। जिसे मोटापा के लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है।

इसके सेवन से कब्ज नाश होता है। ब्लड साफ होता है। एवं शरीर से विषैले पदार्थ को बाहर निकालने का सबसे अच्छा दवा माना जाता है।

आंवला एलोवेरा जूस – यह पेट के लिए बहुत अच्छा औषधि है जिसे अपनाकर आप कई रोगों से बच सकते हैं।

मोटापा कम करने के लिए पेट के बीमारियों को ठीक करना सबसे जरूरी होता है। इसलिए आप एलोवेरा आंवला जूस रोजाना सुबह शाम खाली पेट मे गर्म पानी के साथ सेवन करें।

यह पतंजलि एवं किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर पर आसानी से उपलब्ध होता है।

अंग्रेजी दवा – (Motapa kam karne ka dawa)

मोटापा एवं वजन कम करने के लिए एलोपैथिक दवाओं में बहुत सारे टैबलेट, इंजेक्शन, सीरप बाजार में उपलब्ध है जिसे किसी भी डॉक्टर के सलाह पर लिया जा सकता है।

इन दवाओं का सेवन बिना किसी डॉक्टर के सलाह लिए करना नुकसानदायक हो सकता है।

नीचे कुछ अंग्रेजी दवाओं के नाम बताए जा रहे हैं जिससे किसी डॉक्टर के सलाह से इसका सेवन कर सकते हैं।

Best Weight Loss Capsule –

  • No Fat Weight Loss Capsule
  • Kiton Capsule
  • Carcinoma Cambogia Capsule

होम्योपैथिक दवा – (Motapa kam karne ke upay)

यह भी एक प्राचीन एवं विश्वसनीय औषधि है जिससे कई बीमारियों के इलाज के लिए उपयोगी माना जाता है। मोटापा के लिए भी होम्योपैथिक में कई ऐसे दवा है जिसके सेवन से आसानी से मोटापा कम किया जा सकता है।
आप चाहे तो किसी भी होम्योपैथिक डॉक्टर से मिलकर आप अपना खुराक ले सकते हैं।

और पढ़ें – माइग्रेन क्या है जाने इसके कारण, लक्षण, उपचार, घरेलू नुस्खे, योगासन

सर्जरी – (Motapa kam karne ke upay)

आज के चिकित्सा विज्ञान में सर्जरी के द्वारा भी मोटापा को कम किया जाता है। ऐसे कई हॉस्पिटल हैं जहां मोटापा को कम करने के लिए चर्बी को शरीर से बाहर ऑपरेशन के द्वारा निकाला जाता है।
इसके लिए किसी विशेषज्ञ की आवश्यकता होती है। यह मोटापा कम करने के अंतिम प्रक्रिया है। जिस व्यक्ति की दवा एवं इलाज के द्वारा मोटापा नहीं कम किया जा सकता है उसे अंत में ऑपरेशन के द्वारा इसका इलाज किया जाता है।

डाइटिंग – (Motapa kam karne ke liye diet)

मोटापा को कम करने के लिए डाइटिंग भी एक अच्छा उपाय है। जिसके द्वारा वजन कम कर सकते हैं तथा मोटापा को कंट्रोल कर सकते हैं। लेकिन डाइटिंग किसी विशेषज्ञ की सलाह से ही करें अन्यथा आपको फायदे की वजाय नुकसान हो सकता है।
नीचे डाइटिंग के कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं उससे आप चाहे तो अपना सकते हैं।

  1. डाइटिंग करते समय सबसे जरूरी ध्यान देने वाला बात यह है कि अपने भोजन की मात्रा को एकाएक कम नहीं करना चाहिए।
  2. यदि आप दिन के चार रोटी खाते हैं तो पहले हफ्ते में एक रोटी कम की करें उसके जगह पर सलाद या सब्जी ले।
  3. फिर अगले हफ्ते एक रोटी कम करें और उसके जगह पर सलाह, सब्जी या दाल ले।
  4. डाइटिंग करते समय भोजन में अनाज की मात्रा जितना हो सके कम करें उसके जगह पर फल, सब्जी, सलाद का सेवन करें। भोजन में आना आज 20% ले और फल, सब्जी, सलाद 80% ले।
  5. भोजन में ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियां, रसदार फल, दही, छाछ आदि का प्रयोग करें।
  6. हो सके तो मोटे अनाज का ही प्रयोग करें।
  7. जब भी प्यास लगे पानी पीने की इच्छा हो तो गर्म, सुसुम पानी ही पिए।
  8. यदि आप दिन में दो बार भोजन करते हैं तो उसके जगह आप तीन से चार बार भोजन करें लेकिन भोजन की मात्रा को ना बढ़ाएं उसी भोजन को तीन से चार भाग में बाट कर थोड़ा-थोड़ा खाएं।
Motapa kam karne ke upay

इस लेख से आपने क्या सीखा –

इस लेख में अपने निम्न बाद सीखे जैसे – मोटापा क्या है, मोटापा होने के कारण, मोटापा कम करने के घरेलू उपाय, मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक दवा, मोटापा कम करने की अंग्रेजी दवा, डाइटिंग करने के टिप्स इत्यादि।

आपको यह लेख मोटापा कम करने के उपाय, तरीके(Motapa kam karne ke upay) से जुड़ी जानकारी कैसा लगा नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर लिखे।आपके द्वारा किया गया कॉमेंट हमे अच्छी लेख लिखने के लिए प्रेरित करता है, और साथ मे ये भी जरुर बताए यदि लेख में कोई त्रुटि हो या सुधार की जरूरत हो तो अवश्य उसके बारे में लिखे जिससे हम सुधार कर त्रुटिहीन बना सेक।

इस लेख को अपने मित्रों एवं सगे संबंधियों को जरूर शेयर करे जिससे उन्हें भी मोटापा से बचने, रोकने एवं निपटने में आसानी हो सके।

धन्यवाद…..

शेयर करें👇मित्रों को

1 thought on “मोटापा कम करने के उपाय तरीके(Motapa kam karne ke upay)”

Leave a Comment

हेल्थ इन हिन्दी डॉट नेट इस वेबसाइट पर स्वास्थ्य से जुड़े कई टिप्स, घरेलू नुस्खें, दवाई का नाम, रोगो का निदान, योग क्रिया वाले लेख हैं। इन जानकारियों का उद्देश्य किसी चिकित्सा, निदान या उपचार के लिए विकल्प नहीं है। इस वेबसाइट के माध्यम से उपलब्ध टेक्स्ट, ग्राफिक्स, और सूचनाओं सहित सभी सामग्री केवल सामान्य जानकारी के लिए है।